एतिहासिक : द्वितीय विश्व युद्ध में छूटी पढ़़ाई , 2015 में की पूरी

सबसे उम्रदराज स्नातक: 94 साल के एंथनी ब्रूटोphpThumb_generated_thumbnail

     17 मई को मिलेगा                        ‘रीजेन्टस बैचलर आफ आर्ट’

वाशिंगटन: अगर ललक हो तो उम्र कभी आड़े नहीं आती है। 94 साल के एंथनी ब्रूटो ने 75 वर्ष से अधिक समय लगने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और कालेज से डिग्री ले ली। द्वितीय विश्व युद्ध में शामिल होने से पहले मोरगनटाउन के एंथनी ब्रूटो ने 1939 में वेस्ट वर्जीनिया यूनिवर्सिटी (डब्ल्यूवीयू) में दाखिला लिया था।विश्वविद्यालय ने बताया कि जब 1942 में वह स्नातक होने के करीब था उसे कालेज छोड़ना पड़ा।

द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति तक करीब साढे तीन साल तक सेवा दी

ब्रूटो  सेना में शामिल हो गया , द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति तक करीब साढे तीन साल तक सेवा दी। युद्ध के दौरान अधिकांश समय वेनिस, फ्लोरिडा तैनात रहा। युद्ध के बाद उसने एक स्थानीय सीमेंट प्लांट में अपने पिता और भाईयों के साथ काम करना शुरू किया। वह हालांकि अभी भी कालेज जाना चाहता था। 1946 में उसने फिर डब्ल्यूवीयू में दाखिला लिया,लेकिन जब वह स्नातक होने को था उसे फिर पढ़ाई छोड़नी पड़ी क्योंकि बीमार पत्नी की देखभाल को उसने तवज्जो दी। बूट्रो विश्वविद्यालय के इतिहास में सबसे उम्रदराज स्नातक होगा जब उसे 17 मई को रीजेन्टस बैचलर आफ आर्ट डिग्री से करीब 4500 छात्रों के साथ डिप्लोमा मिलेगा।

Previous Post
Next Post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher