महिला शशक्तिकरण को समर्पित, देश के प्रथम ‘नंद घर’ का लोकार्पण

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने शुभारंभ पर वितरित किया 151 ई-रिक्शा

 Varanasi varanasi- : वाराणसी में जयापुर गांव के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गोद लिए गए दूसरे गांव नागेपुर की कायाकल्प करने की तैयारी चल रही है।e-ricshaw इसी कड़ी में केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने आज वाराणसी के नागेपुर गांव में 151 ई-रिक्शा वितरित किया। उन्होंने देश के पहले नवनिर्मित नंद घर का लोकार्पण कर वेदांता लिमिटेड की नंद घर परियोजना का शुभारंभ किया। अपनी तरह का पहले साझेदारी के रूप में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के साथ मिल कर कंपनी अगले दो वर्षों में 4 हजार मॉडल आंगनवाड़ी का निर्माण करेगी। केंद्र सरकार द्वारा एकीकृत बाल विकास योजना (आईसीडीएस) के तहत स्थापित एक सेवा वितरण इकाई के रूप में नंद घर मौजूदा आंगनवाड़ी का ही आधुनिक विस्तार है।

 मौजूदा आंगनवाड़ी का ही आधुनिक विस्तार है ‘नंद घर’ 

irani1इस मौके पर केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि आंगनवाड़ी में देश का भविष्य पलता है और उसी भविष्य को तकनीक के माध्यम से संवारने का काम वेदांता नंदघर में किया जाएगा। उन्होंने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री के आदर्श ग्राम में देश के पहले नंदघर के उद्घाटन को सुखद संयोग बताया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में इस प्रकार के 4 हजार नंदघर निर्मित होंगे। उनके अनुसार जिन्होंने संविधान की रचना हमारे भविष्य को सुरक्षित करने के लिए की उसी भविष्य को टेक्नोलॉजी की सहायता से बच्चों के लालन-पालन और महिला सशक्तिकरण के माध्यम से निखारने का काम नंदघर में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ही संविधान निर्माता अम्बेडकर के सपनो को पूरा करेंगे और समाज को सशक्त बनाएंगे।

गरीबी उन्मूलन के लिए बदलाव की दिशा में पहला कदम : अनिल अग्रवाल 

Anil Agarwal Chairman Vedanta (AA)इस मौके पर वेदांता के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने बताया कि नंद घर परियोजना प्रधानमंत्री के उस दृष्टि का प्रतिबिंब है जिसमें बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा प्रदान करने के साथ ही महिलाओं के लिए कौशल विकास के साथ रोजगार सृजन प्रतिबद्धता पर बल दिया गया है। नंदघर गुणवत्ता की शिक्षा, एक विश्वस्तरीय बुनियादी सुविधाओं में स्वास्थ्य और कौशल प्रशिक्षण प्रदान कर के समुदायों के लिए दीर्घकालिक लाभ देने से गरीबी उन्मूलन के लिए बदलाव की दिशा में पहला कदम साबित होगी। उन्होंने बताया कि नंद घर एक प्रकार से प्रधानमंत्री के डिजिटल भारत, स्वच्छ भारत और स्किल इंडिया के माध्यम से सामाजिक विकास के राष्ट्रीय विजन के अनुरूप है।

गरीबी का हाईटेक ईलाज !

jyapur.nandgharनंदघर अनूठी निर्माण प्रौद्योगिकी का उपयोग करेगा और सौर पैनलों के माध्यम से बिजली, एक प्रेरक माहौल में ई-लर्निंग, स्वच्छ पीने के पानी आरओ के माध्यम से और मोबाइल चिकित्सा इकाइयों के माध्यम से प्राथमिक स्वास्थ्य लाभ से बच्चों और महिलाओं को जोड़ेगा। यहां नंद घर बच्चों के लिए सुबह शिक्षा और स्वास्थ्य केंद्र के रूप में चलाने के लिए और दोपहर बाद व्यावसायिक कौशल के क्षेत्र में महिलाओं को प्रशिक्षित करने के उद्देश्य से तैयार किए जा रहे हैं। यह एक बदलाव लाने वाला कदम है जिससे देश में बच्चों के कुपोषण उन्मूलन और महिला उद्यमियों को तैयार करने का कार्य किया जाएगा। एक अनुमान के अनुसार 25 लाख बच्चों और महिलाओं को हर साल इस परियोजना के माध्यम से लाभ होगा।

Vaidambh Media

Previous Post
Next Post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher