मेक इन इंडिया : निवेशकों के लिये मक्का बन सकता है यूपी !

100 से ज्यादा निवेशकों को राज्य में निवेश के लिए राजी कर लेने की उम्मीद

Mumbai : मुंबई में चल रहे ‘मेक इन इंडिया सप्ताह’ में सभी राज्य अपने यहां निवेशकों को आकर्षित करने की कवायद में लगे हैं।

India's Prime Minister Narendra Modi (C) gestures as Nirmala Sitharaman (R), Minister of state for Commerce and Industry, Kalraj Mishra, Minister of Micro, Small and Medium Enterprises and Anant Geete (L), Minister of Heavy Industries and Public Enterprises, look on during the launch of 'Make in India' campaign by Modi in New Delhi September 25, 2014. REUTERS/Adnan Abidi (INDIA - Tags: BUSINESS POLITICS) - RTR47NOH

सभी राज्य निवेशकों को अपनी खासियतें गिनाते नहीं थक नहीं रहे हैं। उत्तर प्रदेश भी इस मौके का फायदा उठाने में कोई कसर बाकी नहीं रखना चाहता। उत्तर प्रदेश के स्टॉल पर मौजूद अधिकारियों का कहना है कि अभी तक करीब 60 बड़े निवेशकों ने राज्य में निवेश की इच्छा जताई है। कार्यक्रम के अंतिम दिन तक 100 से ज्यादा निवेशकों को राज्य में निवेश के लिए राजी कर लेने की उम्मीद है। हालांकि कार्यक्रम के दौरान महाराष्ट को छोड़कर किसी भी राज्य के साथ कंपनियों का लिखित करार नहीं हुआ है, क्योंकि कंपनी ऐसा करने से पहले जमीनी हकीकत देखना चाहते हैं। ऐसे में कार्यक्रम के बाद निवेशक राज्य का दौरा करेंगे और उस समय उत्तर प्रदेश सरकार के साथ करारनामा तैयार किया जाएगा। किन कंपनियों ने राज्य में निवेश की इच्छा जताई है, उसका खुलासा अधिकारियों की ओर से नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि सहमति पत्र तैयार होने के बाद पूरी जानकारी मीडिया को दी जाएगी।

उद्योगबंधु , निवेश मित्र के सहारे राज्य सरकार उपलब्ध करा रही बेहतर माहौल !
मेक इन इंडिया सप्ताह की धूमधाम के बीच मुंबई आए समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश अपार संभाUPवनाओं वाला राज्य है। निवेशकों को सबसे बेहतर माहौल और सुविधाएं प्रदेश सरकार दे रही है। उन्होंने निवेशकों को उत्तर प्रदेश आने का आह्वïान करते हुए कहा कि निवशकों के लिए उत्तर प्रदेश में बेहतर मौके हैं।  राज्य सरकार निवेशकों को लुभाने के लिए नई योजनाएं लेकर आई है। ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण में मार्केटिंग एवं उद्योग प्रबंधक योगेंद्र सिन्हा ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने उद्योगपतियों को लुभाने के लिए कई कदम उठाएं हैं। इसी का असर है कि राज्य में बड़े पैमाने पर निवेश हो रहा है। उद्योगबंधु और निवेश मित्र जैसी योजनाओं के सहारे राज्य सरकार उद्योगपतियों को निवेश के लिए बेहतर माहौल उपलब्ध करा रही है। बदले माहौल में देशी और विदेशी निवेशक राज्य में निवेश करने को तैयार हैं।

निवेश करने की दौड़ में सबसे आगे रियल एस्टेट कंपनियां !
अधिकारियों का कहना है कि हर राज्य की अपनी अपनी विशेषता है।mak-in-india-us-copy उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी खासियत उसके लोग हैं। हमारे पास पर्याप्त श्रमबल और बड़ा बाजार है, जो निवेशकों को आकर्षित करता है।  राज्य में सबसे निवेश करने की दौड़ में सबसे आगे रियल एस्टेट कंपनियां हैं। वैसे, अधिकारियों की मानें तो उत्तर प्रदेश में कई यूरोपीय देश प्रौद्योगिकी, शिक्षा और खाद्य प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों में निवेश करने को तैयार है। इनमें नार्वे, आयरलैंड, लिथुआनिया और आइसलैंड प्रदेश में निवेश करने और प्रौद्योगिकी में मदद करने में दिलचस्पी दिखाई है। पिछले वित्त वर्ष में भारत में निजी निवेशकों द्वारा रियल एस्टेट क्षेत्र में 12 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश किया गया था, जिनमें अकेले उत्तर प्रदेश की 16 प्रतिशत भागीदारी रही।

Vaidambh Media

Previous Post
Next Post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher