’मेरा स्वास्थ्य मेरी आवाज’ का आगाज

माॅ! जिसका ज्ञान जीव को गर्भ से निकलने के तुरंत बाद हो जाता है। संसार का कोई भी जीव माॅ के बिना अस्तित्व विहीन हो जाता है। ऐसे मे देश मे मातृत्व अस्वस्थता व प्रसव के दौरान मृत्यु की घटना बेहद शर्मनाक है। आॅकड़ों के मुताबिक लगभग 4 करोड़ लोग स्वास्थ्य सेवा के खर्च के कारण गरीबी रेखा के नीचे खिसकने को मजबूर हैं। इन चुनौतियों से निपटने के लिये समाज के लोंगों ने मेरा स्वास्थ्य मेरी आवाज का नारा बुलंद किया है।

स्वास्थ्य सेवाओं का तेजी से बाजारीकरण गरीब परिवारों के लिये किसी कहर से कम नही है। भारत को विश्व में सर्वाधिक प्राइवेट चिकित्सा ब्यवस्था वाले देश के रुप में जाना जाता है।नीजी स्वास्थ्य सेवायें दिन ब दिन महंगी होती जा रही हैं। इस समस्या का संज्ञान लेते हुए पिछली सरकार नें क्लीनिकल इस्टैब्लिशमेण्ट एक्ट पास किया। इसके अंतर्गत उपचार के मानकों के दिशा निर्देश का प्रावधान, संस्थानों द्वारा उपचार दरों का प्रदर्शन, सभी चिकित्सा संस्थानों एवं शाखाओं को इस एक्ट के तहत शामिल किया गया है।

यह कानून मरीज के हक की बात नही करता इसलिये यह लचर ब्यवस्था का हिस्सा जैसा जान पड़ता है। चिकित्सा संस्थानों को गलती के बावजूद बचने के तमाम मौके कानून में उपलब्ध हैं। इन बेहद संगीन समझे जाने वाले मामलों को हेल्थ वाॅच फोरम उत्तर प्रदेश ने मरीज हक अभियान के तहत बृहद पैमाने पर उठाने का प्रयास किया है। इनकी माॅग है कि यूपी में क्लीनिकल एस्टाब्लिशमेण्ट ऐक्ट 2010 लागू किया जाय। इस कानून में समितियों के स्तर पर सामाजिक कार्यकर्ता , स्वयं सेवी संस्थानों को जोड़ा जाय जो इस मुद्दे की समझ रखते हैं। मरीजों के हक सुरक्षित करने का प्राविधान बनाया जाये, साथ ही मरीजों की शिकायत दर्ज कराने की ब्यवस्था हो।

महिला अधिकार स्वास्थ्य मंच का उद्देश्य सभी महिलाओं को स्वस्थ्य रहने का अधिकार दिलाना है। स्थानीय मातृत्व स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता पर निगरानी करना एवं प्रदेश भर में जिला व राज्य स्तर पर मातृत्व स्वास्थ्य सेवाओं की निगरानी करना। मंच के कार्यकर्ता अवधेश के मुताबिक प्रदेश में प्रति 1 लाख पर 517 मातृ मृत्यु होती है। इसका कारण है महिलाओं तक स्वास्थ्य सेवाओं की पहुॅच नही होना। महिलाओं के स्वास्थ्य अधिकारों की विशेष तकनीकी पहल ’मेरा स्वास्थ्य मेरी आवाज’ का प्रारम्भ किया गया है। इसके अंतर्गत हर ब्लाक के लिये अलग-अलग हेल्प लाइन शुरु की गई।

Previous Post
Next Post
No Comments
hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher