व्यक्ति केंद्रित पर्टियों में 272+ का साहस नहीं

भारत के लोकतांत्रिक ब्यवस्था मे इन दिनों ब्रांड की धूम है। दिल्ली मे केजरीवाल, गुजरात में मोदी, अमेठी मे राहुल,सैफइ मे मुलायम, बंगाल में ममता,तमिलनाडु में जयललिता,बिहार में नितीश और भी कर्इ। कुछ विद्वानों का मानना हैं कि भारत मे प्रजातंत्र का बेहतर युग शुरु होने जा रहा है। लोकतंत्र मे चुनाव ब्यकित केनिद्रत होने का अर्थ है तानाशाही के सुसुप्त ज्वालामुख्ी को हवा देना। इससे सबसे बड़ी निराशा बूथ लेवल कार्यकर्ता को होती है,वह विचारधारा का प्रचारक है या ब्यकित का! कहीं व्यक्ति केंद्रित होकर वह अनजाने में गुलामी की ओर कदम तो नहीं बढ़ा रहा है।
कांग्रेस एक विचार है। आज इसे कौन मानता है? जनसंघ की देशप्रेमी भावना से उदधृत हुर्इ भारतीय जनता पार्टी में विचार और ब्यकित में प्रथम कौन है? समाजवाद मुलायम सिंह के कुनबे तक सीमित है! दलितों के उत्थान की स्वघोषित नेता के विचार ही पार्टी के विचार हैं। इस बात को बसपा के सैकड़ो नेता खुलेआम स्वीकार करतें हैं। निरंतर यहा राजनीतिक विचारों पर ब्यकित का कब्जा होे जाने के कारण ही लोकसभा में 272+ का लक्ष्य भेदने का साहस किसी पार्टी मे अब नहीं रह गया है।
भीड़ इकठठी कर भावनाओं का गुबार छोड़ने वाले नेता बपने भाषण मे जनता को मतलबी घुटटी पिलाने के सिवा कुछ नहीं कर रहे। देश का विकास कब और कैसे होगा, अगले पाच बरस तक सरकार के काम करने के मुख्य बिंदु क्या होंगे, साम्प्रदायिकता का जहर कैसे समाप्त करेंगे? जातियता का संघर्ष अब इस तरीके से समाप्त हो जायेगा ,देश मे खुशहाली लाने का मेरा ये ब्रम्हास्त्र होगा; जैसी बात मंचस्थ नेताओं को बेमानी लगती है। स्वयंभू ब्रांड ये नेता देश की जनता के सामने सरेआम झूठ बोलते हैं फिर भी कोर्इ हर-हर, कोर्इ धरती पुत्र तो कोर्इ आइरन लेडी जैसे उपाधियों से नवाजा जाता है। जनता को झंडा उठाने व नारा लगाने से पहले पार्टी की विचारधारा व उसके नारों का मतलब भी समझना होगा। वरना याद रहे लोकतंत्र की चादर लपेटे होने के बावजूद राजशाही का अंत कभी नही हो सकेगा।

धनञ्जय “ब्रिज”

Previous Post
Next Post

hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher