हरियाणा के कृषि मंत्री का जुमला :किसानों को बताया ‘कायर’

 NewDelhi:सरकार किसी भी पार्टी की हो उसके सुर गरीब व किसानों के साथ ही बिगड़ते हैं। अमीरों के साथ कोरस देने वाले लोग जब सरकार में चुन कर पहुॅचते हैं तो उनसे किसी भले की उम्मीद करना नादानी ही कही जायेगी। करपोरेट संत के एक अनुयायी ने किसानों की आत्महत्या मुद्दे को एक बार फिर हवा दे दी। इस बार उनका संवाद किसानों से ही था। दिन.रात भूखा- प्यासा रहकर हाडतोड़ मेहनतकस किसान को कायर कहने वाले इन नेकदिल करपोरेटी घी गटकने वाले मंत्री जी से अब इससे अधिक संवेदनशीलता की उम्मीद करना मुर्खता ही है। पर हाॅ मंत्री जी ये वो किसान हैं जो आपको वोट इस उम्मीद के साथ देते हैं कि आप उनके भले की चिंता करेंगे न कि जुमला कसेंगे! किसान कभी न कायर था! न है! और न होगा! किसान तुम्हारी तरह मौकापरस्त ब्यापारी भी नहीं वह मेहनतकस जांबाज है जो जीवन की जंग मे तुम्हारे जैसे जयचंदों की वजह से धोखा खा जाता है, जय जवान जय किसान के उद्घोष काल को याद कर लेना तब शायद तुम्हे किसान को कायर कहने पर चुल्लूभर पानी की जरुरत पड़ जाय!

22हरियाणा के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ किसानों को लेकर दिए गए अपने विवादित बयान पर क़ायम हैं.धनखड़ ने आत्महत्या करने वाले किसानों को ‘कायर’ बताया था.चौतरफ़ा आलोचना के बावजूद उन्होंने कहा कि ‘हरियाणा वीरों की भूमि है और आत्महत्या करने वालों का सम्मान नहीं करती है.’कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को संसद में धनखड़ के इस बयान को उठाया जबकि अन्य विपक्षी पार्टी भी इसकी कड़ी आलोचना कर रही हैं.हाल में, बेमौसम बरसात से फसलों के हुए नुकसान के बाद किसानों की आत्महत्या के मामलों में इजाफ़ा हुआ है.2

किसान आत्महत्या करता है वो कायर होता है!
ओपी धनखड़ ने कहा कि ‘हरियाणा के लोग आत्महत्या जैसा रास्ता नहीं अपनाते.’ उन्होंने कहा कि वो हरियाणा में आत्महत्या का वातावरण नहीं चाहते.उधर, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा में किसानों की समस्या उठाते समय धनखड़ के बयान का जिक्र किया.राहुल ने कहा, “किसान मंडियों में रो रहे हैं. उनके दिल में दर्द है और हरियाणा के कृषि मंत्री कहते हैं जो किसान आत्महत्या करता है वो कायर होता है. “

150422111806_indian_farmer_suicide_in_aap_rally_512x288_indiasamvad_nocredit
चौतरफ़ा आलोचना
धनखड़ के इस बयान पर जनता दल यूनाइटेड ने भी आपत्ति जताई.जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा, “धनखड़ का बयान किसान विरोधी है. ये भारतीय जनता पार्टी की मनोदशा को उजागर करता है “वहीं बीजू जनता दल के जय पांडा ने आत्महत्या को अपराध की श्रेणी में रखे जाने को पीड़ितों के प्रति अमानवीय रवैया बताया. उन्होंने कहा, “हमें ये मानना होगा कि आत्महत्या की वजह निराशा होती है. इसे अपराध की श्रेणी से बाहर करना होगा. ये ब्रिटिश सरकार के वक्त से चला आ रहा कानून है. आत्महत्या को अपराध की तरह देखना पीड़ित परिवार के घावों पर नमक छिड़कने के समान है. “

Previous Post
Next Post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

hogan outlet online scarpe hogan outlet nike tn pas cher tn pas cher nike tn 2017 nike tn pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher air max pas cher scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet scarpe hogan outlet chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher chaussures louboutin pas cher